ज्ञानवापी मामले में बयान देने वाली रुबीना को मिल रही धमकियाँ ,मांगी सुरक्षा

0
24

रामपुर //ज्ञानवापी प्रकरण में बयान देने के बाद सुर्खियों में आईं रुबीना खानम को धमकियां मिल रही हैं। उन्होंने महिला आयोग से सुरक्षा की मांग की है।

रुबीना खानम समाजवादी पार्टी महिला सभा की अलीगढ़ महानगर अध्यक्ष थीं। ज्ञानवापी को लेकर उन्होंने बयान दिया था कि सरकार को मामले की उच्चस्तरीय जांच करानी चाहिए। जांच में यहां मंदिर होने के सबूत मिलते हैं तो मुसलमानों को इसे हिंदू भाइयों को सौंप देना चाहिए।

उन्होंने कहा था कि अगर ऐसे सबूत नहीं मिलते हैं तो हिंदुओं को अपना दावा छोड़ देना चाहिए। इस बयान के बाद समाजवादी पार्टी ने उन्हें पद से हटा दिया था। इसके बाद रुबीना खानम ने समाजवादी पार्टी छोड़ दी।

उनका मायका रामपुर में है और रामपुर में आई हुई हैं। उन्होंने बताया कि राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष विमला बाथम ने उनसे बात की।

तब उन्होंने अवगत कराया कि कुछ लोग उन्हें धमकी दे रहे हैं। इंटरनेट मीडिया पर आपत्तिजनक टिप्पणी कर रहे हैं। उन्होंने सुरक्षा के लिए महिला आयोग की अध्यक्ष को पत्र भी लिखा है। उम्मीद जताई है कि सरकार उन्हें सुरक्षा मुहैया कराएगी।

रुबीना के बयान का वीडियो हुआ था वायरलः रुबीना खानम ने ज्ञानवापी प्रकरण को लेकर जो बयान दिया था उसका एक वीडियो भी वायरल हुआ है। इसमें उन्होंने कहा है कि ज्ञानवापी पर हिंदू पक्ष जो दावा कर रहा है यदि वह साबित हो जाता है तो हमारे मुस्लिम धर्म गुरुओं, उलमा को जमीन हिंदू पक्ष को दे देनी चाहिए।

मुस्लिम समाज के धर्म गुरुओं, उलमा को समझना चाहिए कि किसी भी कब्जा की हुई जमीन या छीनी हुई जमीन पर कब्जा किया गया है तो वहां पर नमाज पढ़ना हराम है।

ऐसा इस्लाम में कहा गया है। उन्होंने कहा कि यदि हिंदू पक्ष का दावा सही साबित होता है तो मुस्लिम पक्ष को जमीन हिंदू पक्ष को वापस कर देनी चाहिए।

इसी तरह यदि हिंदू पक्ष का दावा गलत साबित होता है तो उन्हें शांतिपूर्ण तरीके से अपना दावा छोड़ देना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here