अंतरराज्यीय महिला गिरोह का पर्दाफाश

0
28

सतना
सतना पुलिस ने अंतरराज्यीय महिला गिरोह का पर्दाफाश किया है जिन्होंने 27 मई की दोपहर 12 बजे सतना के बंटू गौरी ज्वेलर्स में चोरी की वारदात को अंजाम दिया था। ग्राहक बनकर आई दो महिलाओं ने देखते ही देखते सोने से भरे आभूषणों का डिब्बा पार कर दिया था। यह वारदात दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई थी। खुलेआम बिना चेहरा छिपाए महिलाओं ने यह वारदात को अंजाम दिया था जिससे पुलिस का शक मजबूत हो गया था कि महिलाएं स्थानीय नहीं हैं। इन्हीं महिलाओं को ढूंढते हुए सुराग पाकर सतना की सिटी कोतवाली पुलिस उत्तर प्रदेश के कानपुर जा पहुंची जहां से दोनों महिलाओं और एक महिला का भाई जो कि गैंगस्टर भी है तीनों को उनके घरों से गिरफ्तार किया गया। ये अंतरराज्यीय गिरोह संचालित कर रहे थे और दूसरे शहरों में घूम-घूमकर चोरी की वारदात को अंजाम दिया करते थे। इनके घरों में लग हाथ धोने के वाशबेसिन की पाइप के अंदर इन्होंने चोरी के आभूषण छिपा कर रखे थे जिन्हें बरामद कर लिया गया है। सतना पुलिस ने कुल 17 लाख 65 हजार रुपये कीमत के 21 नग सोने और मोती के जेवर बरामद किए हैं जो महिलों ने सतना के बंटू गौरी ज्वेलर्स से पार किए थे।

 

ऐसे की थी वारदात-

27 मई 22 को दोपहर 12 बजे के बंटू गौरी जेवर वाला में दो महिलाएं आभूषण खरीदने के लिए आई और आभूषण दिखाने को बोली दुकान का सेल्समेन उनको तरी दिखा रहा था। इसी दौरान एक महिला ने बाक्स में रखा 6 नग रानी हार 6 नग हार और 6 कान के गहने, मोती से भरा डिब्बे को अपने पर्स में रख कर चोरी कर चले गए। जिस पर अज्ञात महिला आरोपितों के विरूद्ध थाना कोतवाली में अपराध दर्ज कर जांच शुरू की गई थी। पुलिस अधीक्षक आशुतोष गुप्ता ने बताया कि महिलाएं पुलिस को गुमराह करने के लिए ट्रेन के रास्ते कानपुर तक गई और इस दौरान उन्होंने तीन ट्रेनें बदलीं। पुलिस को भटकाने के लिए वे उल्टे रास्ते से मानिकपुर होते हुए कानपुर पहुंचीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here