शिवपुरी के नरवर में फर्जी मतदान के विरोध में अंजाम दिया तिहरा हत्याकांड, भाजपा के समर्थन में थे तीनों मृतक

Triple murder committed i

 

शिवपुरी। मध्य प्रदेश के शिवपुरी जिले के चकरामपुर गांव में तिहरा हत्याकांड फर्जी मतदान और बूथ पर कब्जे के विरोध में हुआ था। तीनों शव लेकर रविवार को नरवर पहुंचे स्वजन की मौजूदगी के बीच तमाम लोगों ने पुलिस के सामने यह आरोप लगाया। पीड़ित पूनम तोमर का कहना था कि उनका परिवार भाजपा प्रत्याशी के पक्ष में था। आरोपितों की ओर से कांग्रेस के पक्ष में फर्जी मतदान किया गया तो भाजपा के एजेंट के रूप में मौजूद लक्ष्मण भदौरिया, भोला भदौरिया ने विरोध दर्ज करवाया। इसी विरोध पर झगड़ा हुआ। जब मतदान समाप्त हो गया तो हत्या की वारदात को अंजाम दे दिया गया।

कार सहित जिंदा जलाने का प्रयास

घटनाक्रम के अनुसार, शुक्रवार 17 नवंबर को विधानसभा चुनाव का मतदान समाप्त होने के उपरांत चकरामपुर गांव के एक पक्ष के लोगों ने दूसरे पक्ष के छह लोगों को पहले तो कार सहित जिंदा जलाने का प्रयास किया। इसके बाद उन्हें पीट-पीट कर मरणासन्न कर दिया। ये सभी एक ही परिवार के सदस्य थे। घटना में तीन लोगों की मौत हो गई। तीन गंभीर हैं और उनका उपचार चल रहा है।

रविवार को गांव चकरामपुर में शव पहुंचने से पहले ही सैकड़ों की संख्या में संभाग से आए क्षत्रिय समाज के लोग वहां पहुंच गए। उनकी मांग थी कि आरोपितों के घरों को जमींदोज किया जाए। स्वजन को 50-50 लाख रुपये प्रदान किए जाएं। हर परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी दी जाए और परिवार को पांच बंदूक लाइसेंस तत्काल स्वीकृत किए जाएं। जब तक उनकी यह मांगें पूरी नहीं की जातीं, तब तक वह शवों का अंतिम संस्कार नहीं करेंगे।

फर्जी वोट घटना की चश्मदीद गवाह

हर प्रहार के साथ बोले, ले एक और फर्जी वोट घटना की चश्मदीद गवाह महिला शैली तोमर और बाबी भदौरिया ने बताया कि जब आरोपित परिवार के सदस्यों पर हमला कर रहे थे, तो सभी कुल्हाड़ी के हर प्रहार के साथ चीख-चीख कर कह रहे थे कि ले एक और फर्जी वोट। चश्मदीद ने कहा कि आरोपितों ने महिला आशा भदौरिया के पैर पर पैर रखकर उन्हें चीर दिया था। आरोप है कि अंदरूनी अंगों तक को कुल्हाड़ी से काटा गया।

14 आरोपित गिरफ्तार, तमंचा बरामद

पुलिस ने 14 आरोपित राम सिंह पुत्र ज्वाला प्रसाद कुशवाह, देशराज पुत्र धनीराम कुशवाह, खुमान सिंह पुत्र मुंशी कुशवाह, मेहरवान सिंह पुत्र बारेलाल कुशवाह, विष्णु पुत्र प्रागीलाल कुशवाह, गोपाल सिंह पुत्र भजन सिंह कुशवाह, सोनू पुत्र प्रेम सिंह कुशवाह, गोलू उर्फ शिवकुमार पुत्र किलोल सिंह कुशवाह, दामोदर पुत्र श्यामलाल कुशवाह, वीर सिंह पुत्र पुन्नालाल कुशवाह, अखिलेश पुत्र वीर सिंह कुशवाह, परमाल पुत्र भागीरथ कुशवाह, मुकेश पुत्र मुंशीराम कुशवाह, राय सिंह पुत्र भगवान सिंह कुशवाह को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपितों से घटना में प्रयुक्त एक तमंचा (कट्टा) 315 बोर का मय खाली खोखा, कुल्हाड़ी, सरिया, लुंहागी, लाठी आदि बरामद की हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here