ईएमआई वसूली के लिए एसबीआई देगा चाकलेट

 

दिल्ली। देश की सबसे बड़ी सार्वजनिक बैंक स्टेट बैंक आफ इंडिया (एसबीआई) ने कर्ज वसूली के लिए एक नया तरीका अपनाने जा रहा है। जो भी कोई तय समय पर अपनी मासिक किस्त (ईएमआई) नहीं चुकाएगा एसबीआई से जुड़े कर्मचारी उसके घर जाकर चाकलेट दे रहे हैं और उपभोक्ता से किस्त चुकाने के लिए अनुरोध करेंगे।

बार-बार फोन करने पर नहीं मिलता जवाब

इसके पीछे एसबीआई अधिकारियों का तर्क है कि उपभोक्ता किस्त चुकाने के लिए बार-बार फोन करने पर उसका जवाब नहीं देते हैं। ऐसे में अच्छा है कि अचानक घर पहुंचकर उन्हें चौका दें और उन्हें चाकलेट भी दें।

किस्त वसूली का नया तरीका

स्टेट बैंक आफ इंडिया द्वारा किस्त वसूली के लिए यह बिल्कुल अनोखा तरीका अपनाया जा रहा है। बैंक के कर्मचारी उपभोक्ता से व्यक्तिगत रूप से मिलेंगे और उन्हें यह बताएंगे कि कितनी किस्त बाकी हैं।

एसबीआई कर रही एआई का उपयोग

एसबीआई के अधिकारी अश्विनी कुमार तिवारी ने बताया कि हम आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस का उपयोग कर रही दो कंपनियों के साथ मिलकर काम कर रहे हैं। जिसमें एक कंपनी कर्जदार की किस्त ना चुकाने की जानकारी देती है वहीं दूसरी कंपनी उनके पास पहुंचकर कर्ज चुकाने के लिए सुलह का प्रयास करती है।