ऊषा कोल की मेहनत,ईमानदारी लाई रंग ,बनीं ‘आप’ की प्रदेश सचिव

पाली // आम आदमी पार्टी की प्रदेशाध्यक्ष नियुक्त होने के साथ ही जिला इकाइयों के गठन की प्रक्रिया भी तेज हो गई है। पार्टी ने उमरिया जिले के मानपुर विधान सभा क्षेत्र से दो नेत्रियों को प्रदेश संगठन में महत्वपूर्ण जिम्मेदारी सौंपी है।

इनमें नगर पालिका परिषद की पूर्व अध्यक्ष व वर्तमान में पार्षद सुश्री ऊषा कोल (In Photo) को संगठन में सचिव और पार्षद संध्या पाण्डेय को संयुक्त सचिव नियुक्त किया है।

आम आदमी पार्टी में ऊषा कोल को सचिव बनाए जाने पर उनके शुभचिंतकों ने उन्हें बधाई दी है। पार्षद ऊषा कोल को संगठन में अहम् जिम्मेदारी मिलने से पार्टी कार्यकर्ताओं में उत्साह है।

बीजेपी को दिखाया आईना
सियासत में ऊषा कोल का लम्बा अनुभव है। नगरपालिका पाली के पिछले कार्यकाल में ऊषा कोल बीजेपी के टिकट पर चुनाव जीत कर परिषद् की अध्यक्ष बनी । उनका कार्यकाल साफ-सुथरा रहा। उनके नेतृत्व में नगर विकास के अनेक कार्य हुए।

पार्टी की अंदरूनी राजनीति के चलते नगर पालिका के पिछले चुनाव में उनका टिकट काट दिया गया,लेकिन ऊषा ने हार नहीं मानी। वह निर्दलीय चुनाव लड़ीं और बहुमत से जीती भी। इस चुनाव में बीजेपी प्रत्याशी तीसरे स्थान पर रहा।

अभिनेत्री सम्भावना सेठ के साथ ली ‘आप ‘ की सदस्यता
आदमी पार्टी ने उन्हें अपने साथ जोड़ा। ‘आप’ के ,राष्ट्रीय संगठन मंत्री सांसद श्री संदीप पाठक ने स्वयं उन्हें पार्टी की सदस्यता दिलाई।

खास बात यह कि इसी दिन प्रख्यात भोजपुरी फिल्मों की अभिनेत्री सम्भावना सेठ भी ‘आप’ से जुड़ीं।

ऊषा कोल व सम्भावना को श्री पाठक एवं सांसद संजय सिंह ने एक साथ सदस्यता ग्रहण कराई थी।

अब बनीं ‘आप’ की प्रदेश सचिव
इसी माह भोपाल में आयोजित आप के सम्मलेन को सफल बनाने में ऊषा कोल ने भी महत्वपूर्ण भूमिका अदा की।

उनके नेतृत्व में उमरिया के सैकड़ों कार्यकर्ता भोपाल पहुंचकर सम्मलेन में शामिल हुए।

उनकी इस नेतृत्व क्षमता को देखते हुए पार्टी नेतृत्व ने उन्हें ‘आप’ की प्रदेश इकाई में सचिव जैसे अहम् पद का दायित्व सौंपा है।