औद्योगिक घरानों ने विंध्य में सबसे ज्यादा व्यवसाय की दिखाई रुचि, 289179 करोड़ निवेश करने का आया प्रस्ताव

 

उमरिया, मध्यप्रदेश ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट 2023 में औद्योगिक घरानों ने विंध्य में सबसे ज्यादा व्यवसाय की रुचि दिखाई है। यहां 289179 करोड़ रुपए निवेश करने के प्रस्ताव आएं है। अफसरों ने बताया कि प्रदेश में रीवा व शहडोल संभाग में 2 लाख 88 हजार 179 करोड़ के उद्योग लगाने के प्रस्ताव राज्य शासन के पास आए हैं। यह प्रस्ताव जबलपुर, सागर, भोपाल, नर्मदापुरम, ग्वालियर और चंबल संभाग के निवेश प्रस्तावों की तुलना में काफी अधिक हैं।

निवेश के मामले में विंध्य से आगे सिर्फ औद्योगिक राजधानी इंदौर और मालवा व निमाड़ क्षेत्र को मिले हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल में आयोजित समीक्षा बैठक में अधिकारियों को इन्वेस्टर्स मीट में विभिन्न विभागों को प्राप्त निवेश प्रस्तावों पर तत्काल कार्यवाही करने के निर्देश दिए है। कहा ​है कि जल्द से जल्द सभी प्रस्तावों को धरातल पर लाया जाए। इसके लिए जो भी आवश्यक कार्रवाई को उस तत्काल पूर्ण करें।

इसलिए विंध्य आगे
विंध्य क्षेत्र में औद्योगिक निवेश के बड़े प्रस्ताव मिलने पर कलेक्टर मनोज पुष्प ने पूरी जानकारी दी। कहा कि रीवा व शहडोल क्षेत्र में भरपूर संसाधन हैं। बड़े पैमाने पर सीमेंट उद्योग, एनर्जी सेक्टर संचालित हैं। यहां पर्याप्त मात्रा में जमीन उपलब्ध है। रीवा में तीन नए औद्योगिक केन्द्रों का विकास किया जा रहा है। रेलवे और हाइवे का अंचल में तेजी से विकास हो रहा है।

हवाई अड्डे की प्रक्रिया शुरू
रीवा में हवाई अड्डे बन रहा है। आने वाले वर्षों में ललितपुर-सिंगरौली रेल लाइन का कार्य पूरा हो जाएगा। बाणसागर बांध के रूप में हमारे पास अपार जल मौजूद है। विंध्य के संसाधनों की जानकारी सोशल मीडिया, सभा-सम्मेलनों के माध्यम से निवेशकों को दी जा रही है। ऐसे में निवेश के बड़े प्रस्ताव प्राप्त हो रहे हैं। इन्वेस्टर्स मीट में पहली बार विंध्य ने अपनी उपस्थिति मजबूती से दर्ज कराई है। यह विंध्य के विकास का परिणाम है।