पहलवानों का धरना खत्म

पहलवानों का धरना खत्म

भारतीय कुश्ती महासंघ (डब्ल्यूएफआइ) और पहलवानों के बीच ‘दंगल’ तीसरे दिन खत्म हो गया। डब्ल्यूएफआइ अध्यक्ष और भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह पर लगे आरोपों की जांच दो समितियों के हवाले की जाएगी। खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने पहलवानों के साथ शुक्रवार देर रात बैठक के बाद आरोपों की जांच के लिए एक समिति बनाने की घोषणा की। समिति में कम से कम तीन सदस्य होंगे। खेल मंत्रालय शनिवार को समिति के सदस्यों की घोषणा करेगा। यह समिति चार सप्ताह में सभी आरोपों की जांच करेगी। जब तक जांच पूरी नहीं हो जाती है, तब तक बृजभूषण शरण सिंह डब्ल्यूएफआइ से खुद को अलग रखेंगे।

 

बृजभूषण शरण सिंह ने इस्तीफा देने से साफ इन्कार कर दिया है। खेल मंत्री से मुलाकात के बाद पहलवान धरना खत्म करने के लिए तैयार हो गए। इससे पहले शुक्रवार देर शाम भारतीय ओलिंपिक संघ (आइओए) ने बृजभूषण पर लगे यौन शोषण के आरोपों की जांच के लिए छह बार की विश्व चैंपियन मुक्केबाज एमसी मेरीकाम की अध्यक्षता में सात सदस्यीय समिति गठित के गठन की घोषणा की। यह समिति आंतरिक शिकायत कमेटी है। यह किसी भी खेल में महिलाओं से जुड़े मामलों की जांच करेगी।